छोटी उंगली देखकर जानिए किसी के भी व्यक्तित्व के राज़

4729

हस्तरेखा या हाथों की लकीरें भविष्य जानने के काम आती है लेकिन palmistry यानि हस्तरेखा शास्त्र में उँगलियों से भी किसी के व्यक्तित्व के बारे में पता लगाया जा सकता है। छोटी ऊँगली के तीन भाग आपके व्यक्तित्व के बारे में बहुत कुछ बताते है। हमारे हाथों की अँगुलियों में अलग अलग भाग बने हुए होते है हर फिंगर और अंगूठा 3 भागों से बटा हुआ होता है। अँगुलियों के इन भागों का इस्तेमाल हम अक्सर जोड़ बाकी या काउंटिंग करने में करते है। हस्तरेखा ज्योतिष के अनुसार अँगुलियों को विभाजित किये ये भाग आपके व्यक्तित्व के बारे में कई खुलासे करते है।

ज्योतिष विशेषज्ञों के अनुसार सबसे छोटी ऊँगली के ये भाग एक जैसे नही होते है, इनमें एक भाग ज्यादा बड़ा होता है और दो अन्य छोटे होते है, कुछ लोगों के छोटी ऊँगली का बीच वाला भाग ज्यादा बड़ा होता है और बाकी दो अपेक्षाकृत छोटे होते है, और ऊपर वाला भाग सबसे छोटा होता है।

अगर छोटी ऊँगली का पहला यानी सबसे ऊपर का भाग सबसे लंबा होता है तो ऐसे व्यक्ति की तरफ लोग ज्यादा आकर्षित होते है, ऐसे व्यक्ति के बात करने के तरीके से लोग प्रभावित हो सकते है ये दूसरों का आकर्षण पाने वाले इंसान होते है और इनमें दूसरों को अच्छे से और गहराई से समझने की क्षमता होती है।

यदि छोटी ऊँगली का बीच वाला भाग पहले और आखिरी भाग से बड़ा या लंबा होता है तो ऐसे लोग बहुत ही केयरिंग होते है दूसरो की केयर करने वाले, दूसरो की चिंता रखने वाले होते है, जिन लोगों की छोटी ऊँगली  में बीच का भाग लंबा होता है वे लोग दूसरो के बारे में अपने से पहले सोचते है, लेकिन ऐसे लोग बेहद कम मिलते है।

अगर छोटी ऊँगली का सबसे नीचे वाला भाग सबसे छोटा है तो ऐसे लोग दूसरों के प्रति लॉयल होते है ऐसे लोगों पर भरोसा किया जा सकता है

वहीँ  जिन लोगों की कनिष्ठा यानि सबसे छोटी ऊँगली के तीनों ही भाग छोटे है यानि ऊँगली बाकी उँगलियों के कुछ ज्यादा ही छोटी है तो ऐसे लोग भीड़ का हिस्सा होते है,  कहने का मतलब ऐसे लोग कम  मशहूर होते है, ये लोगों के बीच पॉपुलर नही होते, ऐसे लोग बस भीड़ में खो जाने वाले होते है

जिन लोगों की छोटी ऊँगली का बीच वाला भाग अन्य दो भागों की तुलना में छोटा होता है तो ऐसे लोग काफी हठी स्वभाव के होते है, ये अपने मन की करने वाले होते है इन्हें बदलाव से परेशानी होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here