किसी को भी अकाल मृत्यु से बचाता है यह छोटा सा शनिवार का उपाय

207
premature death

अकाल मृत्यु यानि अचानक मौत, वक़्त से पहले किसी की मृत्यु हो जाना अकाल मृत्यु कहा जाता है, यूँ तो प्रकृति का नियम है जिसनें जन्म लिया है उसी मृत्यु निश्चित है और यह एक शास्वत सत्य है

भगवान् श्रीकृष्ण ने भी श्री मद भागवत गीता में यही सन्देश दिया है की आत्मा अमर है और देह नश्वर है जिसे एक ना एक दिन ख़त्म होना है .
लेकिन समय से पहले होने वाली अकाल मृत्यु को टाला जा सकता है…
शिवपुराण के अनुसार असमय होने वाली मृत्यु से बचने के लिए शनिदेव की आराधना सर्वश्रेष्ठ उपाय है, शनिदेव असमय मृत्यु से बचाने में सक्षम है इसीलिए उनके निमित पूजा करने और उन्हें प्रसन्न कर इस अनहोनी को टाला जा सकता है .

शनि को प्रसन्न करने के लिए शनिवार का दिन श्रेष्ठ रहता है इस दिन इनके निमित पूजा करने और शनि की वस्तुओं का दान देने से अकाल मृत्यु का भय नहीं रहता है और इसके साथ ही कई ज्योतिष सम्बन्धी कुंडली के दोष भी समाप्त हो जाते है

इसके अलावा शनिवार को भगवान शिव को जल में तिल डाल कर अर्पित करने और ॐ नमः शिवाय का जप करने से भी अकाल मृत्यु का खतरा टल जाता है और लम्बी आयु की प्राप्ति होती है, शिवजी के साथ साथ शनिदेव की पूजा से अकाल मृत्यु टाली जा सकती है .
यह उपाय शिव पुराण में बताया गया है अतः इसे करते समय किसी भी प्रकार का संदेह या बिना मन से नहीं करना चाहिए अन्यथा इसका पुण्य प्राप्त नहीं होता है