इन पापों के लिए कभी क्षमा नहीं करते शिव

शिव पुराण में कार्य, बात-व्यवहार और सोच द्वारा किए गए कुछ पाप वर्णित हैं जिसे भगवान शिव कभी क्षमा नहीं करते। ऐसा व्यक्ति हमेशा ही शिव के प्रकोप का सामना करता है। कहा जाता है कि इसे आप कभी भी सुखी जीवन व्यतीत नहीं कर पाएंगे। ऐसा ही कुछ बातें हम आपको बताने जा रहे है जो करना तो दूर आपको सोचनी भी नहीं चाहिए।

पराये धन पर नजर : किसी और के रुपयों पर गन्दी नजर डालना शिव की दृष्टि से क्षमा नहीं करने वाला अपराध है। दूसरों के पैसों को अपना बनाने की सोच रखने वाले इंसान को शिव कभी माफ़ नहीं करते। आपकों दूसरों का धन अपना बनाने की चाह कभी नहीं रखना चाहिए।

परायी स्त्री या पुरुष पर नजर : दूसरों की पत्नी पर या किसी दूसरी महिला के पति पर खराब नियत रखना और उसे  हासिल करने की या सम्बन्ध बनाने जैसी सोच रखना भी अक्षम्य पाप है। यह इच्छा करना भी पाप की श्रेणी में आता है।

सोच में दूसरे  का बुरा सोचना : भले ही आप अपने व्यवहार से किसी  को दुःख नहीं पहुंच रहे हो, लेकिन किसी दूसरे  व्यक्ति के लिए यदि आपके दिमाग में बुरी सोच है तो यह शिव की दृष्टि में अपराध है।  किसी का बुरा सोचना भी आपको इस पाप का भागी बनाता है।

वहीं किसी भोलेभाले इंसान को कष्ट देना, उसे नुकसान पहुंचाना भी पाप की श्रेणी में आता है।

किसी गर्भवती महिला को कटु वचन कहना या अपनी बातों से उनका दिल दुखाना घोर पाप है।

समाज में किसी के मान-सम्मान को हानि पहुंचाना या उसकी पीठ पीछे बातें करना वहीं गुरु, माता-पिता, पत्नी या पूर्वजों का अपमान आपको भूलकर भी नहीं करनी चाहिए।

You might also like