गणेश चतुर्थी टोटके: गणेश जी के इन मन्त्रों का जाप बदल देगा किस्मत, होगी हर मनोकामना पूरी | Ganesh Chaturthi Totke

Ganesh Chaturthi Totke: गणेश चतुर्थी पर या बुधवार के दिन श्री गणेश की पूजा के बाद विशेष मन्त्रों का जप करना अत्यंत फलदायी और गणेश जी को प्रसन्न करने वाला माना जाता है। संकटों से बचकर हर मनोकामना पूरी करने के लिए गणेश जी के कुछ मन्त्रों के जाप के उपाय बताये गए है।

जानिए, गणेश चतुर्थी पर या हर बुधवार कैसे और किन विशेष मंत्रों से करें श्री गणेश की पूजा, ताकि मनचाही मनोकामना हो पूरी और मिले समस्याओं से मुक्ति:

– सुबह सूर्य उदय होने से पहले उठकर स्नान कर लें।
– घर या मंदिर में पीले वस्त्र पहन श्रीगणेश की पूजा करें और सिंदूर, दूर्वा, गंध, अक्षत, अबीर, गुलाल, सुंगधित फूल, जनेऊ, सुपारी, पान, फल व भोग में लड्डू अर्पित करें।

पूजा के बाद पीले आसन पर बैठ नीचे लिखे अचूक श्रीगणेश मंत्र से पूजन संपन्न करें।

गणेश गायत्री मंत्र:

एकदंताय विद्महे, वक्रतुण्डाय धीमहि, तन्नो दंती प्रचोदयात्।। 

यह गणेश जी को प्रसन्न करने का एक मंत्र भी है, इससे इंसान के पुराने बुरे कर्मों का प्रभाव कम होने लगता है और भाग्य उसका साथ देने लगता है। इस मंत्र का रोज 108 बार जप करने से गणेश जी की कृपा होने लगती है।

किसी भी कार्य के प्रारंभ में गणेश जी को इस मंत्र से प्रसन्न करना चाहिए:

श्री गणेश मंत्र ऊँ वक्रतुण्ड़ महाकाय सूर्य कोटि समप्रभ।
निर्विघ्नं कुरू मे देव, सर्व कार्येषु सर्वदा।।

 

कर्ज और आर्थिक परेशानियों से मुक्ति का मंत्र:

गणेश कुबेर मन्त्र:

ॐ नमो गणपतये कुबेर येकद्रिको फट् स्वाहा। 

कर्ज में डूबे व्यक्ति और पैसों की परेशानियों से मुक्ति पाने के लिए रोज इस मंत्र का 108 बार जप करने से नए धन प्राप्ति के साधन मिलने लगते है और जल्दी ही कर्जे और आर्थिक परेशानियों से मुक्ति मिल जाती है।

You might also like

Leave A Reply