इस उपाय से किसी का भी झूठ 2 मिनट में पकड़ सकते है आप

झूठ कैसे पहचाने? कैसे पता लगाया जाये कोई व्यक्ति झूठ बोल रहा है? कुछ लोग इतने भरोसे के साथ झूठ बोलते है, इतनी सफाई से अपनी बात तर्कों के साथ रखते है की हम समझ ही नहीं पाते की सामनें वाला व्यक्ति हमसे सच बोल रहा है या झूठ। किसी के झूठ को पकड़ने के लिए कोई जादू टोना नहीं है, बस आपकी एकाग्रता चाहिए। जानिए वो टिप्स जिससे आपको पता चलेगा की क्या सामने वाला व्यक्ति झूठ बोल रहा है?

जिस भी व्यक्ति के सच या झूठ का टेस्ट करना है आपको उसकी हरकतों पर ध्यान देना होगा। वे जब बात कर रहा है तो उसकी बॉडी लैंग्वेज को समझना होगा। वह कोई बात बताते समय अचानक हाथ पाँव का मूवमेंट करने लगे, जैसे अपने हाथों को जेब में डाल ले, पाँव को बैठे बैठे हिलाने लगे, हाथों से कुछ चीज़ छेड़ने लगे समझिये वह आपसे कुछ छुपा रहा है और सच नहीं बोल रहा। इसके पीछे कारण ये है की उसकी ये हरकतें उसके मन में चल रही चिंता को दर्शाती है। झूठ बोलते हुए उसके पकडे जाने का डर उससे ऐसे काम करवाता है ताकि डर से उसका ध्यान हटे और वह झूठ बोल सके। ऐसी स्थिति में लोग झूठ बोलते समय हाथ पाँव खुजाने लगते है, सर के बाल संवारने लगते है, कुछ भी ऐसी फिजूल ही हरकत करने लग जाएंगे जिससे उनका और आपका भी ध्यान पूरी तरह बात पर ना रहे, तो समझ जाइये की कुछ गड़बड़ है। इसके विपरीत यदि आदमी बोलते समय आराम से बात कर रहा है उसके चेहरे पर कोई चिंता नहीं है तो वह सच बोल रहा है।

यदि सामने वाला व्यक्ति बोलते समय थोड़ा गंभीर हो जाये या कुछ सोच सोच कर बोलने लगे तो भी शक की संभावना बढ़ जाती है की वह झूठ बोल रहा है। आपको उसके चेहरे पर साफ़ दिख जाएगा की वह बोलते समय कुछ सोच रहा है

यदि आपके कुछ बात पूछने पर सामने वाले इंसान की बोलने की स्पीड में अचानक ही बदलाव आ जाये, और वह एक ही दिए तर्क को बार बार दोहराये तो समझ लेना चाहिए कुछ गड़बड़ है। इसमें आपको लोगों के बोलने की कला को समझना होगा, अगर आप उनकी बोलनें की कला को समझ गए तो आप किसी का भी इरादा भांप सकते है।

बात ख़त्म हो जाने पर कुछ देर बाद उस व्यक्ति से जब आप दुबारा उसी टॉपिक पर बात शुरू करेंगे तो वह थोड़ा हडबडाया सा दिखेगा, और उसके बोलने में बदलाव दिखेगा, यानि वह पहले जैसे बात कर रहा था उससे अलग होगा, या तो बोलने की स्पीड में परिवर्तन आएगा या अंदाज़ में, और वह पहले कही गयी बातों में कुछ ना कुछ घुमाने की कोशिश जरूर करेगा, यदि ऐसा हो समझ लेना चाहिए की कहीं ना कहीं कुछ गड़बड़ है।

इसमें कुछ और बातों पर भी ध्यान दे सकते है जैसे आँखें चुराकर बात करना, बोलते समय हिचकिचाना, आवाज की थरथराहट आदि, लेकिन किसी भी एक लक्षण को देखकर ही यकीन न कर लें की वह झूठा है।

You might also like

Leave A Reply