पुरुष किसी को ना बताएं ये सीक्रेट्स

अक्सर हम किसी खास से कुछ न कुछ शेयर करते रहते है लेकिन कुछ ऐसी बातें है जिनको किसी से शेयर नहीं किया जाना चाहिए वर्ना भविष्य में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।
पैसों की समस्या – यदि आपको कोई पैसों में नुकसान हो गया है या फिर पैसों की समस्या आ रही है तो बेशक परेशान होने वाली बात है लेकिन हर किसी से इस बात का रोना न रोयें की आप पैसों की तंगी से परेशान है।  ऐसा करने से लोग धीरे धीरे आपसे दूर होने लगेंगे और समाज में आपकी इज्जत भी घटने लगेगी।  कटु है पर सत्य है की पैसे वालों से ही आजकल रिश्ते निभाए जाते है और सम्मान दिया जाता है अगर आपको पैसों की जरुरत है तो अपने रिश्तेदार या दोस्त से मदद ले सकते है लेकिन उन्हें ये न बताएं की आप कितनी परेशानी में है या आपको नुकसान हुआ है।
पति – पत्नी की बातें – हर घर में झगडे होते है पति पत्नी में बनती नहीं है या कई बार दोस्तों में अपना कद ऊँचा रखने या मजाक के उद्देश्य से पति अक्सर पत्नियों का मजाक बनाते है और कई राज खोलते चले जाते है।  याद रखें पति पत्नी की आपस की बातें कभी सार्वजनिक नहीं करनी चाहिए इससे एक तो आपकी इज्जत दूसरों के सामने गिरती है और वे लोग इन बातों का गलत फायदा भी उठा सकते है।
 

फिजिकल रिलेशन  की बातें – अक्सर अपने दोस्तों से या करीबियों से हम अपने फिजिकल रिलेशन या अकेले में की गयी गलत हरकतों की बातें शेयर करते है। ये आपकी काफी निजी बातें होती है जो सिर्फ  आप तक ही रहनी चाहिए ये सब हर किसी से शेयर ना करें इससे आपकी इज्जत घटने का डर रहता है और बात फैलने से आपकी इमेज भी खराब हो सकती है।

आपकी बेइज्जती – अगर कभी आपकी कहीं पर बेइज्जती हुई हो किसी ने इंसल्ट की हो तो ये बात किसी से न कहें वर्ना वह इंसान भी आपको हलके में लेने लगेगा और आपकी बेइज्जती की बात शेयर करना बताता है की आप खुद का सम्मान ही नही करना जानते तो वे लोग भी आपको हलके में लेने लगते है।दान – सुना होगा गुप्त दान महा दान मतलब चुप चाप किसी को बिना बताये दिया गया दान ही सर्वश्रेष्ठ होता है और पुण्य देता है अगर आप दान का ढिंढोरा पीटेंगे तो उसका फल आपको कभी नहीं मिलेगा।

गुरु या पंडित के मन्त्र :– अगर आपको किसी काम के सफल होने के लिए किसी पंडित या आपके गुरु ने कुछ ज्ञान दिया है कोई मन्त्र या कोई पूजा बताई है तो उसे किसी को भी न बताएं और अकेले में ही करें किसी को बताने से उसका असर कम या ख़त्म हो जाता है।

अपनी उम्र – उम्र न बताना अक्सर अभी तो मैं जवान हूँ वाली लाइन से जोड़ लिया जाता है लेकिन असल में अपनी बढ़ रही उम्र नहीं बतानी चाहिए क्यों की फिर वो आपके दिमाग पर हावी होने लगती है और आप चिंता करने लगते है इसीलिए जिंदगी को भरपूर जीना चाहिए बिना उम्र की चिंता किये।

You might also like

Leave A Reply