आत्माओं को बुलाने का खेल (एक्सॉर्सिस्म), जानिए पूरा तरीका ..

दोस्तों रूह या आत्माएं क्या होती है ये हम सभी जानते है कुछ लोग नाम सुनते ही डर जाते है और कुछ लोगो को इनसे बात करने में मजा आता है, तांत्रिक लोग इन पर रिसर्च कर इन्हे काबू में भी कर लेते है।
दोस्तों अलग अलग आत्माएं अलग अलग प्रकार से व्यवहार करती है।  यह निर्भर करता है की इंसान मरने से पहले कैसा था

क्या होता है जब हम मरे हुए लोगो की आत्माओं को बुलाते है ? कुछ आत्माएं चाहती है की लोग इनसे बात करे और उनकी बात सुने पर कुछ आत्माएं खतरनाक होती है बेहद खतरनाक और उन्हें बिलकुल भी छेड़ा नही जाना चाहिए।

आइये जानते है कितने तरीके से और कैसे आत्माओं को बुलाकर उनसे बात की जा सकती है –

मोमबत्ती से आत्मा को बुलाना
चार- पांच लोग एक घेरा बना कर बैठ जाएं और बीच में एक बोर्ड या पेपर रख लें जिसे ओइजा बोर्ड कहते है इस बोर्ड पर ऐ से लेकर जेड तक सारे अक्षर लिखे होते है, 0 से 9 तक नंबर लिखे होते है और यस और नो ( हाँ या न ) लिखा होता है। अगर ऐसा बोर्ड नही है तो आप लिख भी सकते है। चारों कोनो पर मोमबत्ती जला लीजिये और सभी लाइट्स ऑफ कर दीजिये अब एक कॉइन ( सिक्का ) लीजिये और बीचों बीच रख लीजिये, सबकी उँगलियाँ उस कॉइन पर होनी चाहिए।

अब सभी अपनी अपनी आँखें बंद कर लीजिये और आत्मा को आवाज दीजिये।  इसके लिए कोई मन्त्र या स्पेशल वर्ड्स बोलने की जरुरत नही है, बस सिर्फ आत्माओं को आवाज दीजिये जैसे की – अगर कोई आत्मा हमारे आसपास है या गुजर रही है तो हमे जवाब दे हम आपसे बात करना चाहते है, क्या यहाँ कोई आत्मा है जो हमे सुन सकती है तो संकेत दें, इस दौरान आपको कॉइन को सर्किल की शेप में बीच में ही गोल गोल घुमाना है, अगर वहां आत्मा हुई या आपसे संपर्क किया तो कॉइन में अजीबसी हरकत होगी तब आप अपने हाथ हटा लें और आँखे खोल लें, याद रहे अब आप ऐसी कोई भी हरकत ना करें जिससे आत्मा को अपना अपमान लगे वहां से भागिए तो बिलकुल भी नही।

आप शांति से अपने सवाल पूछिये जैसे इस वक़्त हम कितने दोस्त यहाँ मौजूद है ? और देखिये तमाशा। आत्मा खुद आपको जवाब देगी – फ़र्ज़ कीजिये आपलोग 12 लोग है तो सिक्का पहले एक नंबर पर जाएगा फिर दो नंबर पर मूव करेगा। सिक्का नंबर्स लेटर्स या हाँ या नही पर मूव कर आपको पूछे गए सवालों का जवाब बताता रहेगा।
सावधान ! आत्मा से उनके पर्सनल सवाल कभी मत पूछियेगा की उनकी मौत कैसे हुई ? या और कुछ।  जब आप खेल लें तो उन्हें नम्रतापूर्वक कहें की धन्यवाद अब हम चाहते है की आप चली जाये, क्या आप जा रही है सिक्का यस पर जाएगा, इन्तेजार करें कुछ समय बाद फिर पूछे क्या आप यहाँ है ? सिक्का मूव नही हुआ मतलब आत्मा जा चुकी है।

आमतौर पर आत्मा जाने से इंकार नही करती है, फिर भी यह प्रयोग किसी अनुभवी के साथ ही करें।  देश भर में इसी तकनीक से लोग आत्माओं से बातें करते है।

मन्त्रों के जरिये भी आत्माओं को बुलाया जाता है वो हम आपको आएगे बताएँगे। 

You might also like
1 Comment
  1. Jitudangi says

    Aatma ko bulane K bad agr wo Waps na jaye ya kisi k sath kuch ho gya to kese handle Krty h

Leave A Reply