प्रधानमंत्री का बॉडीगार्ड ये ब्रीफकेस लेकर क्यों चलता है? क्या होता है इसमें, जानिए

प्रधानमंत्री की सुरक्षा में लगे कमांडो को तो आपने देखा ही होगा, ये कमांडो स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप नाम की संस्थान के होते है। स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) नाम की एजेंसी को प्रधानमंत्री की सुरक्षा की जिम्मेदारी सौंपी जाती है। ये संस्था सिर्फ वर्तमान प्रधानमन्त्री की ही सुरक्षा नही करती है बल्कि उनके परिवार और पूर्व प्रधानमंत्री की सुरक्षा भी देखती है।

एसपीजी के साथ एक काउंटर अटैक टीम (कैट) भी होती है जो सुरक्षा के अलग अलग तरीके जानती है इन कमांडो की एक ख़ास तरह की ट्रेनिंग होती है जिसमें इन्हें संकट के समय किसी भी तरह से प्रधानमंत्री को सुरक्षित करने की हार्ड सिचुएशन के लिए तैयार किया जाता है।

प्रधानमंत्री के पास जो बॉडीगार्ड ब्रीफ़केस पकडे चलता है असल में वो सुरक्षा का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हथियार होता है। दरअसल ये ब्रीफ़केस एक न्यूक्लियर बटन होता है। इसे प्रधानमंत्री से बस कुछ ही फ़ीट की दूरी पर रखा जाता है।

pm security bodyguardsये असल में एक पोर्टेबल फ़ोल्डआउट बैलिस्टिक शील्ड होती है, ( जैसा की फोटो में आप देख रहे है ) जो एनआईजी लेवल-3 की सुरक्षा प्रदान करती है। ये देखने में बेहद पतली होती है। अगर सिक्योरिटी गार्ड्स को किसी भी तरह का खतरा दिखाई पड़ता है तो उन्हें सिर्फ एक बटन दबाना पड़ता है और ये शील्ड नीचे की तरफ खुल जाती है जो की एक तरह से एक ढाल का काम करती है। बटन दबाते ही ब्रीफ़केस एक शील्ड की तरह पूरा ओपन हो जाता है जो शरीर को कवर करने के काम आता है।security shield

रिपोर्ट ‘देश की सभी बड़ी मीडिया वेबसाइट से’ …
नोट : पीएम की सिक्योरिटी में कई हथकंडे अपनाये जाते है जिसके बारे में अंदाजा लगाना बेहद मुश्किल है कमांडोज़ बहुत ही स्ट्रिक्ट ट्रेनिंग से गुजरते है ऐसे में ब्रीफ़केस की आपको जानकारी से उन्हें कोई फर्क नही पड़ता। क्योंकि ये तकनीक विदेशों में भी इस्तेमाल की जाती है अतः कोई खुफिया जानकारी नहीं है।

You might also like

Leave A Reply