ट्यूशन पढ़ाने के बहाने घर में ही बच्ची से करता था गन्दी हरकतें

8वीं कक्षा में पढ़ने वाली लड़की के साथ उसी के घर में पढाने आने वाला ट्यूशन मास्टर करता था गन्दी हरकतें, और कहता था मैं पापा से फीस नहीं लेता तो इतना हो हक़ बनता है। दरअसल पिता ने अपनी बच्ची की पढ़ाई के लिए ट्यूशन लगवाया पर आने जाने में परेशानी और समय की बर्बादी की वजह से ऐसा टयुशन टीचर ढूंढा जो स्टूडेंट्स के घर जाकर पढ़ाता है हालांकि इनकी फीस थोड़ी सी ज्यादा थी।

टीचर रोज शाम को ७ बजे घर आता था और हॉल में बैठकर टेबल चेयर पर बच्ची को पढ़ाता था लेकिन घर के सदस्यों के बार बार आने जाने और कभी मेहमानों के आने से पढाई में डिस्टर्ब होता था इसीलिए लड़की के रूम में ही पढाने के लिए टूशन टीचर को बोल दिया था।
पापा ने पुलिस को बताया की कभी पढाई के वक़्त हम उन्हें डिस्टर्ब नहीं करते थे लेकिन एक बार लड़की के भाई ने अचानक से दरवाजा खोल कमरे में प्रवेश किया तो घबरा कर बाहर आ गया।
बेटे ने देखा ट्यूशन टीचर एक हाथ से नोट्स लिख रहे थे और दूसरा हाथ सोनू के कपड़ों के अंदर था।
बेटे ने रात को ये बात मम्मी को बताई तब जाकर इस बात का खुलासा हुआ।


बेटी से पूछने पर उसने बताया की टीचर ने उसे कहा था की तुम्हे पढ़ाने की छोटी सी फीस है और पास करवा देगा। वह थोड़ी देर पढ़ाने के बाद मेरे कपड़ों के अंदर हर जगह हाथ लगाते थे यही नहीं टीचर ने लड़की को बोला हुआ था की जब घर के बाकी सारे सदस्य बाहर  जाने वाले हो तो उसे जरूर बताये।  वह उस दिन उसे ज्यादा पढ़ाएगा।
स्कूल टीचर के हिसाब से इस तरह की अनैतिक घटनाओं को रोकने के लिए छोटे बच्चों और बच्चियों को शिक्षा देने की जरुरत है उन्हें सही गलत का ज्ञान दिया जाना जरूरी है।  खास तौर पर छोटी लड़कियों को अच्छे टच और बुरे टच की विस्तार से जानकारी देने की जरुरत है साथ ही कुछ गलत होने पर खुल कर बोलने और माँ बाप से कोई बात नहीं छुपाने की शिक्षा बच्चों को तुरंत देनी चाहिए ताकि आगे से इस तरह की हरकतें ना हो सके।
साथ ही पेरेंट्स को अपने बच्चों पर खास निगरानी रखनी चाहिए और उनकी गतिविधियों उनके व्यवहार को समझने की कोशिश करनी चाहिए।

You might also like

Leave A Reply